इम्युनिटी बूस्टर आयुर्वेदिक जूस – Immunity Booster Drink in Hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएं – How increase immunity in Hindi

अगर आप भी अपनी इम्युनिटी बढ़ाना चाहते है तो आप यह जरुर जानना चाहते होगें, कि हम ऐसा क्या खाए जिससे हमारी इम्युनिटी जल्द से जल्द बढ़ जाये।

दोस्तों इम्यून सिस्टम हमें हार्मफुल बैक्टीरिया और वायरस से प्रोडक्ट करता है। कमजोर इम्यून सिस्टम का होना मतलब हेल्थ प्रोब्लेम्स को बुलाना।

स्ट्रेस गलत खानपान कम्पलीट नींद ना लेना और बढती उम्र के साथ साथ इम्यून सिस्टम कमजोर होने लगता हैं।

तो दोस्तों शेयर करता हूँ आपसे एक आयुर्वेदिक हेर्ब्स यानि जड़ी बूटी जो आपके इम्यून सिस्टम को नैचुरली बूस्ट कर देगी। साथ ही बात करेगे कुछ बुरी आदतों के बारे में जो आपके इम्यून सिस्टम को कमजोर करती हैं और कुछ अच्छी आदते जो इम्युनिटी को बूस्ट करने में आपकी मदद करेगीं  आइये जानते हैं।

 

गिलोय यानि अमरबेल – giloy for immunity in Hindi

उस  आयुर्वेदिक जड़ी बूटी का नाम हैं गिलोय।  यह एक अनोखी जड़ी बूटी हैं जिसे अमृता कहा जाता हैं। अमृता मतलब अमरता की जड़ सेहत की संजीवनी।

इसका उपयोग पिछले कई सौ वर्षो के अनेक बिमारियों के इलाज में किया जाता रहा हैं। वैसे तो गिलोय के बहुत सारे बेनिफिट्स हैं। लेकिन इसका सबसे अच्छी क्वालिटी हैं कि यह इम्यून सिस्टम को स्ट्रोंग बनती हैं। अगर व्यक्ति का इम्यून सिस्टम मजबूत हो जाये, तो उसमे अपने आप ही बिमारियों से लड़ने की शक्ति आ जाती हैं।

 

अगर आपको अकसर ही सर्दी खासी जुकाम हो जाता हैं, तो आपका इम्यून सिस्टम काफी कमजोर हैं इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के लिए इस पृथ्वी पर गिलोय से अच्छी दूसरी कोई औषधि नहीं है।

इसमें एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं। जो बॉडी में बनी फ्री रेडिकल्स से बखूबी लड़ता है। यह बॉडी में जमे टॉक्सिन को बाहर निकाल फेंकता है साथ ही इससे ब्लड प्यूरीफायर होता है और वायरस और बैक्टीरिया मरते हैं।

बार बार बुखार का होना, कॉन्स्टिपेशन यानी कब्ज की समस्या, डायबिटीज, स्ट्रेस, अस्थमा और इतना ही नहीं आखों की रोशनी को बढ़ने में भी कारगर साबित हुआ हैं।

गिलोय का पाउडर बाजार आसानी से मिल जाता हैं। लेकिन अगर आप इसकी बैल से एक छोटी शाखा तोड़कर उसका जूस बनाते हैं, तो यह और भी ज्यादा असरदार होगा।

 

गिलोय का जूस कैसे बनाएं – How to make giloy juice in Hindi

घर पर गिलोय का जूस कैसे बनाये आइये जानते हैं।

लगभग एक फिट के आसपास गिलोय की एक शाखा ले और उससे छोटे छोटे टुकडो में काट ले। इसे छीलकर इसकी उपरी परत को उतार दें। अब इन टुकड़ो को मिक्सी में एक गिलास पानी के साथ पीस ले और इसे छान लें।

अगर आप ऐसा नहीं कर पते हैं, तो बाजार से गिलोय का पाउडर ले आये और एक गिलास पानी में एक चम्मच पाउडर मिलाये और पी ले।

 

गिलोय का जूस कब पीना चाहिए – Giloy ka juice kab pina chahiye in Hindi

गिलोय के जूस को पीने का सही टाइम क्या है इसे पिने का सही टाइम हैं सुबह खली पेट।

इसे खली पेट पिने से सबसे ज्यादा यह सबसे ज्यादा असरदार साबित होता हैं। इम्युनिटी को जल्दी बढ़ने के लिए आप इसका सेवन सुबह खली पेट करें।

आप ऐसा एक महीने तक करे इसके रिजल्ट तो दो-चार दिन में ही देखने को मिल जायेगे। लेकिन अगर आप एक महीने तक करते हो, तो आपका इम्यून सिस्टम काफी स्ट्रोंग हो जायेगा।

 

इम्यूनिटी कमजोर करती है ये आदतें – Habits that weaken immune system in Hindi

अब बात करते हैं आपकी आदतों के बारे में।  लेकिन उससे पहले मैं एक चीज क्लियर कर देता हूँ जो शरीर अन्दर से साफ़ होगा उसकी इम्यून पॉवर ऑटोमेटिकली ज्यादा होगी इसको एक एक्साम्प्ल से समझते हैं।

आप इमेजिंग कीजिए दो डस्टबिंस है एक बिल्कुल खाली और दूसरी में कचरा भरा पड़ा है। अब किसी कीटाणु को आना हैं तो वो कौन सी डस्टबिन आएगा। जाहिर सी बात हैं जिसमे कचरा हैं।

सेम हमारी बॉडी में भी होता हैं जिस शरीर में ज्यादा गंदगी होगी। वह ऑटोमेटिकली किटाणुओं को अपनी ओर अट्रैक्टिव करेगा  आपकी कुछ बुरी आदते जैसे –

  • सिगरेट शराब से जितना हो सके दूर रहें।
  • जंक फूड या बाहर की बनी चीजें खाना बिल्कुल बंद कर दे।
  • आर्टिफिशियल सुगर का इस्तेमाल ना करें।
  • पूरी नींद न लेना ।
  • अधिक तनाव लेना आदि।

ये सभी आदते शरीर में गंदगी जमा करती हैं। शरीर में गंदगी का होना मतलब इम्यून सिस्टम कमजोर होना।

 

इम्यूनिटी बढ़ाने वाली आदतें – Habits that boost immune system in Hindi

कुछ अच्छी आदते जैसे –

  • सीजनल फ्रूट्स खाएं।
  • जितना हो सके घर का बना खाना खाए।
  • सुबह के समय 15 से 20 मिनट सूरज की रोशनी में बैठे।
  • रेगुलर एक्सरसाइज करें।
  • ज्यादा पानी पीता की बॉडी नेचुरली डिटॉक्स करती रहे।
  • पूरी नींद ले नींद के साथ कभी भी कंप्रोमाइज ना करें।

 

दोस्तों इम्यून सिस्टम एज के साथ कमजोर होता ही है। लेकिन अगर आप इन सभी बातों का ध्यान रखते हैं, तो पक्का आपका इम्यून सिस्टम पहले से कई गुना ज्यादा स्ट्रांग हो जाएगा।

इसे पढ़ें –  पाचन शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय

 

Share

2 thoughts on “इम्युनिटी बूस्टर आयुर्वेदिक जूस – Immunity Booster Drink in Hindi”

Leave a Comment