12 Ways to increase eyesight in Hindi – आँखों की रोशनी कैसे बढ़ाये

आँखों की रोशनी कैसे बढ़ाये – How to increase eyesight naturally in Hindi

आँखों में किसी भी प्रकार की दिक्कत आने पर चेकअप करना बेहद जरुरी हैं। क्योंकि आँख हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग हैं।

दोस्तों अगर आप अपनी आँखों की रोशनी बढ़ाना चाहते हैं। अपनी आँखों को तेज करना चाहते हैं, तो इस पोस्ट को पूरा पढ़े।  आँखों में सुधर लाने के लिए हमारे द्वारा कुछ तरीके बताये गए हैं और इन्हें आयुर्वेद में भी बताया गया हैं।  जिन्हें करना बहुत ही आसान हैं, ये सभी तरीके आपकी दृष्टि को बहेतर बनाने में मदद करेगें।

 

आंखों की रोशनी बढ़ाने वाले भोजन खाएं – Eat food that increases eyesight

आपको ऐसे फूड्स खाने चाहिए, जिनमे विटामिन A, C और E मौजोद हो। साथ ही ऐसे फूड्स जिनमे मिनिरल्स, जिंक और एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हो।

विटामिन A आँखों की रोशनी बढ़ने के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं। इन सभी महत्वपूर्ण पोषक तत्वों के लिए आप ये सभी फल और सब्जियां खा सकते हैं।

  • गाजर – Carrot
  • ब्रोकोली – Broccoli
  • पालक – Spinach
  • स्ट्रॉबेरीज – Strawberry
  • शकरकंद – Sweet Patato
  • साइट्रस – Citrus

इनके आलावा आप ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर खाद्य पदार्थ यानि भोजन खाए।  सैलमन मछली और अलसी के बीज में सबसे ज्यादा ओमेगा -3 फैटी एसिड पाया जाता हैं। यह आँखों को स्वस्थ रखने में मदद करता हैं।

 

कैरोटीनॉयड – Carotenoids

ल्यूटिन (Lutein) और जिजेनथिन (Zeaxanthin) ऐसे कैरोटीनॉयडस (carotenoids) हैं, जो हमारी आंखों के मैक्युला और रेटिना में पाए जाते हैं। ये आंखों को नुकसान पहुँचनें वाली ब्लू लाइट से बचाते हैं। हालांकि कैरोटीनॉयड की डेली इनटेक डोज और सेफ सप्लिमेंट डोज कितनी लेनी हैं यह अभी तक तय नहीं है।

ल्यूटिन (Lutein) और जिजेनथिन (Zeaxanthin) इन दोनों तत्वों को लेने के लिए आप इस फूड्स को खा सकते हैं।

  • पालक – Spinach
  • केल – Banana
  • कोलर्ड ग्रीन्स – Collard Greens
  • ब्रोकोली – Broccoli
  • तोरी – Zucchini
  • अंडे – Eggs

ये कैरोटीनॉयड आंख के उस हिस्से में वर्णक घनत्व में सुधार करके और अल्ट्रावाइलेट और नीली रोशनी को अवशोषित करके मैक्युला की रक्षा करने में मदद करते हैं।

 

फिट रहें – Stay fit

शरीर को फिट व स्वस्थ रखना बेहद जरुरी हैं। क्योंकि जब आप पूरी तरह से फिट रहते हैं, तो आपके शरीर के सभी अंग ठीक से कार्य करते हैं। यह आपकी आँखों को भी स्वस्थ रखने में भी मदद करते हैं।

शरीर में किसी बीमारी का होना जैसे टाइप 2 मधुमेह, जो अधिक वजन वाले या मोटे लोगों में आम है। इससे आंखों में छोटे रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंच सकता है।

डायबिटिक रेटिनोपैथी आपके रेटिना में बहुत छोटी धमनियों का कारण बनती है – आंख का हल्का-संवेदनशील हिस्सा – आंखों में रक्त और तरल पदार्थ का रिसाव होना, आपकी दृष्टि को नुकसान पहुंचाता है।

टाइप 2 मधुमेह जैसे अन्य बीमारियाँ आपकी आंखों को नुकसान पंहुचा सकती हैं। इसलिए बेहद जरुरी हैं कि आप हमेशा फिट और स्वस्थ रहे

नियमित व्यायाम और पोष्टिक भोजन आपको फिट व स्वस्थ रखने में मदद करता हैं।

 

धूप के चश्मे पहने – Wear sunglasses

धूप के चश्मे ना सिर्फ आपको शांत दिखने में मदद करते है। बल्कि आपकी आंखों की रोशनी में भी सुधार लाते हैं।

धूप के चश्मे सूरज की रोशनी से UVA और UVB विकिरण के प्रभाव को 99 से 100 प्रतिशत तक रोक देते हैं। धूप के चश्मे आपकी आंखों को उन स्थितियों से बचाने में मदद करता है, जो आपकी आंखों को नुकसान पहुंचती हैं।

इनमें मोतियाबिंद, धब्बेदार अध: पतन और धमनी शामिल है। इनकी वजह से आपकी आंखों में धुंधलापन आ सकता हैं।

सिर पर चोडी टोपी पहनने से भी आप अपनी आँखों को सूरज से आने वाली हानिकारक किरणों से बचा सकते हैं।

 

20-20-20 नियम का पालन करें – Follow the 20-20-20 rule

आपकी आँखें दिन के दौरान कड़ी मेहनत करती हैं। इसलिए आंखों को आराम देना भी बेहद जरुरी हैं और यदि आप एक समय में लंबे समय तक कंप्यूटर पर काम करते हैं। तो आंखों में रूखापन, तनाव और थकान का आना आम हैं।

तनाव को थकान को कम करने के लिए आपको 20-20-20 नियम का पालन करना चाहिए।

इसका मतलब है कि हर 20 मिनट में, आपको अपने कंप्यूटर को घूरना बंद करना चाहिए और 20 सेकंड के लिए 20 फीट की दूरी पर कुछ देखना चाहिए।

 

धूम्रपान मत करो – Don’t smoke

आप जानते हैं कि धूम्रपान आपके फेफड़ों और आपके दिल के लिए हानिकारक है।  साथ ही आपके बालों, त्वचा, दांत और शरीर के हर दूसरे हिस्से के लिए भी बुरा हैं जिसमे आपकी आंखे भी शामिल हैं।

धूम्रपान आंखों में मोतियाबिंद और उम्र से संबंधित धब्बेदार अध: पतन के विकास के जोखिम को बढ़ाता है।

जहाँ तक हो सके सिगरेट, तम्बाकू और धुम्रपान से बचे आप इनसे जितना दूर रहोगे, आपकी आंखों और सेहत के लिए उतना ही बहेतर हैं।

 

पर्याप्त नींद लें। – Get enough sleep

अधिक काम के चलते जब आप ज्यादा थकान महसूस करते हैं, तो इसका असर सबसे पहले आपकी आंखों पर देखाई देता हैं। आपकी आँखें अधिक आसानी से तनावपूर्ण, ग्रिटि और ड्राई हो जाती हैं।

यदि आप इस कंडीशन में खुद को पर्याप्त नींद नहीं देते हैं, तो यह आपकी आंखों के साथ साथ पुरे शरीर के लिए हार्मफुल साबित होता हैं। इसलिए बेहद जरुरी हैं कि आप अपनी अच्छी सेहत और आंखों को स्वस्थ रखने के लिए भरपूर नींद ले।

शरीर को भरपूर और सही नींद देने से आपकी आंखों की रोशनी में सुधार होता हैं।

 

अच्छी स्वच्छता बनाए रखें – Maintain good hygiene

अपने हाथों और चेहरे को अच्छी तरह से और नियमित रूप से धोएं। यदि आप सौंदर्य प्रसाधनों और रसायनों का इस्तेमाल करते हैं, तो आंख और आसपास के एरिया को कॉस्मेटिक प्रोडक्ट से हमेशा दूर रखे।

आंखों और चहरे को छूने से पहले ध्यान रखे की आपके हाथ बिलकुल साफ़ हो। क्योंकि अगर आपके हाथ साफ़ नहीं हैं और उनपर बहुत सारे कीटाणु मौजूद हैं, तो इन हाथों को आँखों पर लगाने से आँखों को नुकसान हो सकता हैं।

 

आंखों की नियमित जांच करवाएं – Get your eyes checked regularly.

नेशनल आई इंस्टीट्यूट (एनईआई) प्रकाशित करता है कि यह पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आपकी आंखों की असल में प्रॉब्लम क्या हैं। आप अपनी आंखों का नियमित रूप से चेकअप कराएं।

अगर प्रॉब्लम का पता हो तो सोल्युशन का आसानी से पता लगाया जा सकता हैं।

 

आँखों में पानी के छींटे मारे

सुबह उठने के बाद मुँह में पानी भरे और ठन्डे पानी के छींटे अपनी आँखों में मारे।

फिर मुँह में भरे पानी को बाहर निकल दे और दुबारा से मुँह में पानी भरे और फिर से आँखों में छींटे मरे।  ऐसा आपको रोजाना 15 – 20 बार करना हैं।

ऐसा करने से आपकी आँखों की रोशनी तेज होती हैं। इस हैबिट को अपनी डेलीलाइफ में जरूर ऐड करे।

 

आँखों को पानी में खोलें

दूसरा एक बड़ा सा टप ले और उसमे साफ़ पानी भरे और भी अपने चेहरे को उसमे डाले और कुछ सेकण्ड्स के लिए अपनी आँखों को उसमे खोले।  ऐसा काम से काम 15 – 20  बार करे और हाँ ऐसा करते वक्त मुँह में पानी जरूर भरे।

आप दोनों में से किसी एक को अपनी डेलीलाइफ में ऐड कर सकते हैं। यह सच में काम करता हैं और यदि आप चश्मे लगते हैं तो हो सकता हैं कि एक दो महीने में आपके चश्मे भी हट जाये।

 

आंखों के अनुकूल वातावरण बनाएं – Create an eye friendly environment

बहुत सी चीजें जो हमें रोज घेरती हैं वे आंखों के लिए खराब हो सकती हैं। उदाहरण के लिए, कंप्यूटर के सामने लंबे समय तक बैठे रहना, आपकी आँखों में स्विमिंग पूल क्लोरीन का पानी आना, पढ़ते समय मंद प्रकाश का उपयोग करना और फ्लोरोसेंट रोशनी आपकी दृष्टि को ख़राब कर सकती है।

इसलिए अपने आसपास ऐसा वातावरण रखें, जो आपकी आंखों को स्वस्थ रखने में मदद करता हो।

इसे पढ़ें – चश्में से परमानेंट छुटकारा पाएं

 

निष्कर्ष – The conclusion

आज के समय में आंखों को स्वस्थ रखना काफी मुश्किल हो गया हैं हालांकि, यह एक अच्छी जीवन शैली, स्वस्थ पोषण और नियमित नेत्र जांच के साथ सुधारा जा सकता है।

 

Share

1 thought on “12 Ways to increase eyesight in Hindi – आँखों की रोशनी कैसे बढ़ाये”

Leave a Comment