फ्रूट जैम Healthy or Not Honest review in Hindi – fruit jam review in hindi

फ्रूट जैम क्या सच में हेल्दी है – Is fruit jam good for health in Hindi

बच्चों के खाने पिने को लेकर पेरेंट्स अकसर ही परेशान रहते हैं। वो अपने बच्चों को हेल्दी फ़ूड देना चाहते हैं जिसमे सभी तरह के न्यूट्रिशन और पोषक तत्व मौजूद हो, और जिसे बच्चा बड़े स्वाद के साथ खा भी ले।

यानि ऐसा फ़ूड जिसमे सभी न्यूट्रिशन हो और बच्चा उसे खाने के लिए मना भी न करे, क्योंकि ज्यादातर बच्चे खाने का नाम सुनते ही नाक-मुंह बनाने लगते हैं।

लेकिन मार्किट में कुछ ऐसे फ़ूड मौजूद हैं जिन्हें बच्चे बड़े खुश होकर खाते हैं और उनमे से ही एक हैं फ्रूट जैम, इसे ना सिर्फ बच्चे ही बल्कि सभी बड़े स्वाद के साथ खाते हैं।  इसे खाने वाले समझते हैं कि यह हेल्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं, क्योंकि जैम बना होता हैं, ताजे फ्रूट्स से, लेकिन बात आती हैं कि क्या सच में फ्रूट जैम रियल फ्रूटओ से बना होता हैं, तो आइये पता लगते हैं।

 

फ्रूट जैम कैसे बनता है – Fruit jam kaise banta hai in Hindi

दोस्तों यहाँ मैं, जैम बनाने वाली किसी एक पर्टिकुलर ब्रांड की बात नहीं कर रहा, मार्किट में बहुत सारे ब्रांड मौजोद हैं और सभी ब्रांड यही दावा करते हैं, हमारा जैम आपके बच्चो को फलो से मिलने वाले सभी न्यूट्रिशन यानि पोषक तत्व देता हैं। जैसे –

  • Kissan mixed fruit jam review in hindi
  • Apis mixed fruit jam review in hindi
  • Patanjali mixed fruit jam review in hindi
  • Skeyndor mymask fruit jam review in hindi
  • Snactac mixed fruit jam review in hindi</li

फ्रूट जैम बनाने के लिए फलो उबाला जाता हैं। उबलने के बाद फलों का पानी फुक जाता हैं और एक जैम बन जाता हैं। लेकिन उबलने पर फलो में मौजोद पोषक तत्व नस्त हो जाते हैं। जिस फल में विटामिन C होता हैं, तो उबलने पर विटामिन C  पूरी तरह से नष्ट हो जाती हैं।

इसको मीठा बनाने के लिए चीनी का इस्तेमाल किया जाता हैं। इसमें और भी बहुत सारी चीजो का इस्तेमाल किया जाता हैं।

 

दोस्तों आप सभी ने फ्रूट जैम की यह ऐड तो देखी ही होगी।  जिसमे एक माँ अपने बेटे को ब्रेकफास्ट में ब्रेड के ऊपर जैम लगाकर देती हैं, और बच्चा उसे बड़े स्वाद के साथ खता हैं, और पूछता हैं क्या हैं इसमें, तो माँ उसे बताती हैं इसमें हैं  Mango, Banana, Papaya, Apple, Pineapple, Pear, Orange, Grapes  मतलब यह हैं  8 फ्रूट का एक यम्मी पैक।

 

फ्रूट जैम इनग्रेडिएंट्स – Mixed fruit jam ingredients

मतलब कि 8 फ्रूट का एक यम्मी पैक, तो आइए इसकी इनग्रेडिएंट्स लिस्ट देखते हैं इसमें फ्रूट्स के साथ और क्या-क्या है।

तो इसके इनग्रेडिएंट्स लिस्ट में सबसे पहले है। सुगर और फिर हैं वही सरे फ्रूट्स हैं इसमें थिकनर का इस्तेमाल किया गया हैं एसिडिटी रेगुलेटर और कुछ Preservatives डाले गए हैं।

  • Sugar
  • Mixed fruit pulp blend
  • Mango Pulp
  • Banana Pulp
  • Papaya Pulp
  • Pear Pulp
  • Apple Juice
  • Pineapple Juice
  • Orange Juice
  • Grapes Juice
  • Thickener
  • Acidity Regulator
  • Preservatives

 

फ्रूट जैम न्यूट्रिशन इनफॉरमेशन – Fruit jam nutrition facts in Hindi

आइये अब बात करते हैं इसके न्यूट्रिशन इनफॉरमेशन की, दोस्तों इसके एक सर्विंग की अगर बात करे, तो यह 20 ग्राम की हैं यानि दो छोटे चम्मच, जिससे आपको मिलते हैं।

  • Energy – 57 kcal
  • Protein – 0.1 gm
  • carbohydrate – 14.2 gm
  • Sugar – 13.6 gm
  • Dietary fibre – 0.1 gm
  • Sodium – 3.9 mg

दोस्तों इसके एक सर्विंग की अगर बात करे तो यह 20 ग्राम की हैं यानि दो छोटे चम्मच, इस 20 ग्राम की एक सर्विंग में टोटल 57 ग्राम कैलोरी, जिससे आपको मिलते हैं 0.1 ग्राम प्रोटीन यानि सिर्फ ना के बराबर।

14.2 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स और 13.6 ग्राम सुगर  यानि 14.2 ग्राम कार्बोहायड्रेट में से 13.6 ग्राम कार्बोहायड्रेट सुगर से मिलते हैं। मतलब टोटल कार्बोहायड्रेट आपको सुगर से मिलते हैं इसका मतलब 3 से 4 चम्मच चीनी, जिसे आप एक बार में ही कन्जूम करते हैं।

सोचिये अगर आपका बच्चा एक दिन में दो से तीन टाइम अगर फ्रूट जैम खता हैं, तो लगभग 10 से 12 चम्मच चीनी तो वह इस फ्रूट जाम से ही ले लेता हैं।

और पुरे दिन में बच्चा और भी बहुत सारी चीजे खता हैं जो उसको सुगर देती हैं। अगर वह दूसरे खाने से भी इतनी सिगार लेता हैं, तो मतलब आपका बच्चा एक दिन में लगभग 20 चम्मच चीनी खा रहा हैं।

 

फ्रूट जैम खाने के नुकसान – Fruit jam khane ke nuksan in hindi

अगर एक मोटा मोटा हिसाब लगाया जाये, तो एक चम्मच में 5 से 6 ग्राम चीनी आती हैं और जिससे आपको मिलती हैं लगभग 20 ग्राम कैलोरी, तो 20 चम्मच चीनी का मतलब 20*20 = 400 कैलोरी।

ज्यादा अधिक मात्रा में चीनी खाने से आपके बच्चे मोटापे का शिकार हो सकते हैं। डायबिटीज हो सकती है, अधिक चीनी खाने से दिल की बीमारियों का खतरा बना रहता है, इन फैक्ट शर्ट एंड कैंसर तक भी हो सकता है।

 

एक रिसर्च हमें बताती हैं कि बच्चे को एक दिन में सिर्फ 4 – 5 चम्मच चीनी खानी चाहिए।

सभी फ्रूट जैमस में लगभग 70% सुगर होती हैं यानि सिर्फ 20 से 30 % ही फल मौजोद होते हैं।

सिर्फ जैम ही नहीं बल्कि केचप और कई दूसरे फ़ूड कंपनियां, प्रोडक्ट्स में चीनी की मात्रा का अधिक यूज़ करते है और इसलिए यह बच्चों को काफी पसंद आता है। और यह सभी बच्चो को ही टारगेट करते हैं, क्योंकि सभी ब्रांड आपके डेली उपभोग का हिस्सा बनना चाहते हैं।

तो क्या आपको अभी भी लगता हैं कि यह आपके बच्ची के लिए हेल्दी हैं। अगर हाँ तो आप शौक से खावा सकते है।

 

इसे पढ़ें – बॉर्नविटा vs हॉर्लिक्स vs कॉम्प्लान Honest review in Hindi

 

दोस्तों लेकिन क्या आप जानते हैं कि कंपनियों को पूरी आजादी होती है कि वह कुछ भी कह सकते हैं। अपने प्रोडक्ट की एडवर्टाइजमेंट और प्रोडक्ट के फ्रंट लेवल पर।

एक जागरूक ग्राहक होने के नाते यह हमारी जिम्मेदारी है कि कोई भी प्रोडक्ट खरीदते समय अपनी आंखें खुली रखें प्रोडक्ट का फ्रंट लेवल या प्रोडक्ट की एडवर्टाइजमेंट देखकर कभी भी प्रोडक्ट ना खरीदें।

उस में डाली गई सभी इनग्रेडिएंट्स और न्यूट्रिशन इनफॉरमेशन को जरूर चेक करें।

 

इसे पढ़ें – Real juice review in Hindi

 

Share

1 thought on “फ्रूट जैम Healthy or Not Honest review in Hindi – fruit jam review in hindi”

Leave a Comment