वजन बढ़ाने के लिए 21 बेहतरीन टिप्स (21 वेट गेन फार्मूला)

Page Contents

21 बेस्ट टिप्स और तरीके वजन बढ़ाने के लिए जरुर अपनाएं – Fast Weight Gain Tips in Hindi

दोस्तों अगर आप वेट गेन करने की कोशिस कर रहे हैं। लेकिन हो नहीं रहा तो Don’t worry यह सुपर स्पेशल विडियो हैं सिर्फ आपके लिए  सुबह उठने से लेकर रात के सोने तक आप क्या खाए क्या करे और कैसे करें सबकुछ जिससे आप एजिली अपना वेट गेन कर सके।

अगर आप सब कुछ ट्राई कर चुके है लेकिन वेट वें हो ही नहीं रहा तो आई प्रॉमिस इस पोस्ट को पढने के बाद सच में अपना वेट गेन कर पाओंगे सबसे पहले हम बात करेंगे सब कुछ ट्राई करने के बाद भी आखिर वेट गेन क्यों नहीं होता हैं।

साथ ही इस पोस्ट में मैंने फ़ास्ट एंड हेल्दी वेट गेन करने के लिए आपको कुछ टिप्स, फुल डे डाइट प्लान, वर्कआउट और कुछ आयुर्वेदिक सप्लीमेंट बताये हैं ताकि जिससे आप एकदम नेचुरल तरीके अपना वेट गेन कर सकते।

वजन ना बढ़ने के क्या कारण हो सकते हैं – Weight Gain na hone ke karan

दोस्तों सबसे पहले बात करते हैं। आखिर सब कुछ ट्राई करने के बाद भी वजन क्यों नहीं बढ़ता है।

 

खराब लाइफस्टाइल – Bad Lifestyle

पहला रिजन हो सकता हैं आपकी लाइफस्टाइल ठीक ना हो या फिर आप जो कुछ भी खाते हैं वह एक बैलेंस्ड मील नहीं होती हैं।

बहुत से लोग जल्दी वेट गेन करने के लिए ज्यादा वर्कआउट करना शुरू कर देते हैं। लेकिन उस हिसाब से अपनी बॉडी को सही अमाउंट में कैलोरीज नहीं दे पाते हैं और जिससे वजन बढ़ने की वजाय घटने लगता हैं।

 

हाइपोथाइरॉएडिज्म – Hypothyroidism

दूसरा रीजन हो सकता हैं हाइपोथाइरॉएडिज्म जोकि एक तरह की बीमारी हैं। हमारी बॉडी में एक ग्लैंड होटी हैं जिसका नाम हैं थायराइड जिससे थायरोक्सिन हार्मोन रिलीज होता है यह हमारी बॉडी में मेटाबॉलिज्म के लेवल को बैलेंस रखता है।

लेकिन यदि यह हार्मोन बॉडी में अधिक क्वांटिटी में बनने लगे तो शरीर में मेटाबॉलिज्म का लेवल उप हो जाता हैं। जिससे हमारी भूख तो बढ़ जाती हैं लेकिन शरीर का वजन दिन पे दिन घटने लगता हैं।

 

डायबिटीज – Diabetes

तीसरा रीजन हो सकता हैं – डायबिटीज  दोस्तों कुछ लोगों को पता नहीं होता कि उन्हें डायबिटीज हैं। यह एक तरह का सिम्टम होता हैं जिसमे इंसान कि भूख तो बढ़ जाती हैं लेकिन वजन नहीं बढ़ता।

इसका कारण हैं कि शरीर में इन्सुलिन बनना कम हो जाता हैं और जो भी आप खाना खाते हैं। वह शरीर में एनर्जी देने कि वजय उल्टा ब्लड में सुगर कि तरह घुमने लगता हैं और इसी कि वजह से बॉडी का वेट कम होने लगता हैं।

 

खराब डाइजेशन – Poor Digestion

चौथा रीजन हो सकता हैं। खराब डाइजेशन यानि यदि आपको पेट से जुडी कोई समस्या हैं, तो आप कभी भी अपना वेट गेन नहीं कर सकते।

पेट की समस्याओ को Gastrointestinal Dieses कहते हैं इसमें पेट से जुडी कई सारी बीमारियाँ होती हैं जिनमे आप खाना तो खूब खाते हैं। लेकिन वह फ़ूड सही ढंग से पच नहीं पाता हैं जिससे फ़ूड में मौजोद पोषण को हमारी बॉडी पूरी तरह से Absorbe नहीं कर पाती जिससे हमारी बॉडी को सही पोषण नहीं मिल पता इसलिए बॉडी का वजन कम होने लगता हैं।

 

आयरन की कमी – Iron Deficiency

पाँचवा रीजन हो सकता हैं आयरन की कमी – दोस्तों इंडिया मे 30% से ज्यादा लोगों में आयरन की कमी हैं। शरीर में आयरन की कमी के कारण भूख लगना कम हो जाता हैं और बॉडी का वजन कम होने लगता हैं।

 

विटामिन बी 12 की कमी – Vitamin B12 Deficiency

छठा रीजन हो सकता हैं विटामिन बी 12 की कमी – शरीर में विटामिन बी 12 की कमी के कारण भी शरीर का वजन कम होने लगता हैं।

 

डिप्रेशन और स्ट्रेस – Depression and Stress

सातवा रीजन हो सकता हैं डिप्रेशन और स्ट्रेस – दोस्तों जिन लोगों में डिप्रेशन और स्ट्रेस होता हैं, तो ऐसे लोगों को भी भूख कम लगती हैं और जिसके कारण वजन घटने लगता हैं।

 

7 बेस्ट वेट गेन टिप्स इन हिंदी – Weight Gain Tips in Hindi

Weight Gain Tips in Hindi

आइये अब बात करते हैं 7 बेस्ट वेट गेन टिप्स इन हिंदी (Weight Gain Tips in Hindi) जो फ़ास्ट और हेल्दी तरीके से आपका वेट गेन करने में मदद करती हैं

 

कैलोरी सरप्लस – Calorie Surplus

फस्ट एंड सबसे इंपॉर्टेंट पॉइंट है कैलोरी सरप्लस    दोस्तों जो लोग अपना वेट गेन करना चाहते हैं उन्हें एक बात हमेशा ध्यान रखनी चाहिए आप जितनी कैलोरीज दिन भर में खर्च करते हैं उससे ज्यादा कैलोरीज आपको खानी होगी। 

अब यहाँ पर एक बात आती हैं की आखिर कितनी कैलोरी सरप्लस खाए तो एक इंसान की बेसिक कैलोरी रिक्वायरमेंट उसकी हाइट, वेट, ऐज, जेंडर और फिजिकल एक्टिविटी पर वेरी करती हैं।

लेकिन फिर भी वेट गेन करने के लिए एक थम रूल हैं कि आपको रोजाना 300 से 500 कैलोरी एक्स्ट्रा खानी चाहिए तभी आप 1 महीने लगभग 400 से 500 ग्राम वेट गेन कर सकते हैं और यदि आप जल्दी वेट गेन करना चाहते हैं तो आप 700 कैलोरिस तक एक्स्ट्रा खा सकते हैं।

और हाँ एक बात का और ध्यान रखे कैलोरिस को एकदम से ना बढ़ाये धीरे-धीरे बढ़ाये ताकि बॉडी यूज़ टू हो सके और कैलोरीज सरप्लस का मतलब हैं कि आपको सिर्फ हेल्दी फ़ूड खाना हैं नाकि आप जंक फ़ूड।

 

लो वॉल्यूम फूड – Low Volume Foods

सेकंड्स टिप्स हैं लो वोलियम फ़ूड  दोस्तों लो वोलियम फ़ूड ऐसे फ़ूड होते हैं। जिनमे न्यूट्रिशन और कैलरी ज्यादा होती हैं ऐसे फूड्स आपको ज्यादा खाने भी नहीं पड़ते लेकिन इनसे आपको सेम अमाउंट में ज्यादा कैलोरिस मिलती हैं। 

मतलब ऐसे फ़ूड जिनसे आपका वेट गेन तो होता ही हैं साथ ही आपकी डेली न्यूट्रिशन रिक्वायरमेंट भी फुल फिल हो।

लो वोलियम फूड्स में आप ले सकते हैं ड्राई फ्रूट्स, नटबटर, पीनट्स, हेअलथी ऑयल्स, मिल्क, डेरी प्रोडक्ट आदि।

तो इस तरह के फूड्स को अपनी डाइट में ऐड करने से आपकी वेट गेन जरनी थोडा इजी हो जाती हैं।

 

लिफ्ट वेट – Lift weight

थड टिप्स है लिफ्ट वेट  जब आप ज्यादा खाना शुरू कर देते हैं तो कई बार आप बेकार फैट गेन करने लग जाते है तो इसलिए आप जितनी भी एक्स्ट्रा कैलोरीज खाते हैं उन्हें यूज़ करना हैं लीन मसल बिल्ड करने मे  तो इसलिए हेल्दी वेट गेन करने के लिए वर्कआउट करना भी बेहद जरुरी हैं।

और वर्कआउट में आप कर सकते हैं स्ट्रैंथ ट्रेंनिंग यह वेट गेन करने के लिए सबसे बेस्ट हैं और अपने वर्क आउट शेड्यूल में आपको ऐड करना हैं कंपाउंड मूवमेंट लाइक बेंच प्रेस, ईसकोर्ट, डेडलिफ्ट, मिलिट्री प्रेस आदि।

थोड़ा एक्स्ट्रा हेवी लिफ्ट करने की कोशिश करें जिसमें आप 6 to 8 रेपुटेशन का टारगेट रखे इन बिटवीन आप रेस्ट भी थोडा ज्यादा ले सकते हैं मीन्स 2 2 3 मिनट।

कार्डियो पर कम फोकस करें लेकिन सेम टाइम इसे इग्नोर नहीं करना हैं क्योंकि यह हार्ट हेल्थ के लिए बहुत अच्छे होते हैं।

तो मतलब आपको हफ्ते में चार सेसन अच्छे से स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के करने हैं और दो सेसन आपको लो पेस कार्डियो के करने चाहिए।  लेकिन आपको एक बात का और ध्यान रखना हैं आपको हप्ते में दो रेस्ट जरुर करने है। जिस दिन आप कोई वर्कआउट ना करें क्योंकि वेट गेन करने के लिए रेस्ट लेना भी बहुत जरुरी हैं।

 

सही खाने का तरीका – Right Eating Pattern

नेस्ट टिप हैं Right Eating Pattern सबसे इम्पोर्टेंट कि वजन बढ़ने के लिए आपको बार बार खाना पड़ेगा means frequently meal करनी पड़ेगी  क्योंकि जब आप लम्बे समय तक कुछ नहीं खाते हैं, तो आपकी बॉडी स्टोर एनर्जी को यूज़ कर लेती हैं जिससे आपके वजन बढ़ाने की वजाय वजन घटने के चांस बढ़ने लगते हैं।

और दिन भर में आपको कम से कम 6 मील करनी पड़ेगी जिसमे आप 3 छोटी और 3 बड़ी मील कर सकते हैं। लेकिन हर मील में आपको पोषण साइज़ बढ़ाना होगा मीन्स ज्यादा और हेल्दी खाना होगा।

कोशिस करें कभी भी खाना खाने इसे पहले या खाना खाने के तुरंत बाद पानी ना पिए। आपको अपने पेट को सिर्फ खाने से ही भरे जिससे आपको ज्यादा पोषण मिल सके और अपनी पानी की डेली रिक्वायरमेंट को बाकि टाइम में पूरा करें।

खाने की प्लेट में सबसे पहले जगह दे कार्बोहायड्रेट को फिर प्रोटीन को, उसके बाद वेजिटेबल और सलाद को  और बिच में स्नैक्स के लिए आपको लेना हैं हाई कैलोरी फूड जैसे ड्राई फ्रूट्स, स्मूथी, मिल्क शेक पीनट बटर आदि।

 

प्रोटीन के बारे में ज्यादा न सोचें – Don’t Think Too Much About Protein

नेस्ट टिप हैं प्रोटीन के बारे में ज्यादा न सोचें दोस्तों जो लोग वेट गेन करना चाहते हैं। वे ज्यादा प्रोटीन खाना शुरू कर देते है और सोचते हैं ज्यादा प्रोटीन खाने से जल्दी वेट गेन होगा।

मैं एग्री करता हूँ कि प्रोटीन वेट गेन के लिए बेहद जरुरी हैं। लेकिन जब आप जरुरत से ज्यादा प्रोटीन खाना शुरू कर देते हैं तो क्योंकि प्रोटीन को डाइजेस्ट होने में ज्यादा समय लगता हैं। तो आपकी भूख कम हो जाती हैं और इसलिए आप उतना नहीं खा पते जितना आपको कैलोरी सरप्लस के नाम पर खाना चाहिए।

तो मतलब 1.5 से 2 ग्राम प्रोटीन पर kg of body weight is enough. यानि totle of calorie ka 30 से 35 %

लेकिन कार्बोहायड्रेट खाना भी बहुत ही जरुरी हैं because carbohydrate is a main source of energy  और वेट गैन करना के लिए इस ऊर्जा की सबसे ज्यादा जरूरत पड़ती है तो मतलब आपको टोटल कैलोरी रिक्वायरमेंट का 50  से 60 % कार्बोहायड्रेट लेना हैं। 

बस ध्यान रखें कि कार्बोहाइड्रेट्स के लिए आप रिफाइंड कार्ब्स ना खाएं  हेल्दी कार्ब्स ले  लाइक राइस, पटेटो, स्वीट पटेटो, दलीय ओअट्स आदि।

 

अपनी कैलोरी ट्रैक करें – Track your calories

सिक्स टिप हैं अपनी कैलोरी ट्रैक करें  मतलब आपको अपनी कैलोरिस को ट्रैक करना चाहिए यानि वेट गेन करने के लिए आपको जितनी कैलोरीज की जरुरत हैं क्या आप उतनी कैलोरिस खा भी पा रहे हो या नहीं।

तो इसलिए आपको तब उसे नोट डाउन करना चाहिए जबतक आपका वेट गेन गोल अचीव न हो जाये आपको अपने फ़ूड आईटमस को मेजर करके खाना चाहिए ताकि आपके लिए कैलकुलेशन करना एजी हो जाये।

और यदि आपको over the period of time रिजल्ट नहीं मिल रहा हैं तो आप अपने रिकॉर्ड को दोबारा से चेक कर सकते हैं कि आपको और कितने कैलोरी सरप्लस करने की जरुरत हैं।

तो मतलब अगर आप अपने गोल को लेकर सीरियस हैं तो आपको अपनी हर चीज का रिकॉर्ड रखना चाहिए और उसे ट्रैक करना चाहिए।

और साथ आपको वीकली अपनी एक पिक्चर क्लिक करनी चाहिए ताकि आप कंपेयर कर सके  आपमें हर हप्ते कितने चेंजस हो रहा हैं तो मतलब वेट गेन करने के लिए ज्यादा खाना तो जरुरी हैं ही लेकिन उसका रिकॉर्ड रखना भी जरुरी हैं।

 

अपने आहार में अच्छी वसा जोड़ें – Add Good Fat in Your Diet

सातवा और सबसे लास्ट  टिप्स हैं  अपने आहार में अच्छी वसा जोड़ें अगर आपको वजन बढ़ाना हैं तो प्रोटीन और कार्बोहायड्रेट के साथ आपको अपनी डाइट में गुड फैट जरुर ऐड करना चाहिए और इससे आपका कैलोरी सरप्लस में रहना भी आसन होगा क्योंकि एक ग्राम फट में होती हैं लगभग 9 कैलोरीज।

इसके अलावा गुड फैट आपकी बॉडी को अच्छे से फंक्शन करने में मदद करता है इसके अलावा विटामिन्स जैसे विटामिन A D K और E को बॉडी में अच्छे से अब्सोर्ब करने के लिए फैट खाना बेहद जरुरी हैं और अपने खाने को बनाने के लिए गुड फट का ही यूज़ करें लाइक olive oil coconut oil ect.

और वेट गेन करने के लिए आप घी और बटर को भी अपनी डाइट में ऐड कर सकते हो इसके अलावा आप MCT oil, badam rogan oil, fish oil and flax seeds oil को भी अपनी डाइट में ऐड कर सकते हैं। इंडिया में लोग गुड फैट खाने पर ज्यादा फोकस नहीं करते लेकिन गुड फाइट खाना बहुत ही जरुरी हैं और वेट गेन करने के लिए आपकी टोटल कैलोरीज का 15 से 20% गुड फ़ूड फैट से आना चाहिए।

 

7 वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक औषधि – vajan badhane ke liye ayurvedic aushadhi

आइये अब बात करते हैं 7 वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक औषधि के बारे में जो वेट गेन करने में आपकी काफी मदद करेंगे। Weight Gain Tips in Hindi

 

अश्वगंधा – Ashwagandha

पहला हैं अश्वगंधा– यह एक बहुत ही पावरफुल आयुर्वेदिक हर्ब हैं जो हमें फिजिकल और मैंटेली स्ट्रांग बनती हैं। वजन बढ़ाने के लिए आप दूध के साथ अश्वगंधा का सेवन कर सकते हैं इसमें में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं और इसका उपयोग आयुर्वेद में काफी किया जाता है।

रोजना दूध के साथ अश्वगंधा लेने से वजन बढ़ाने में मदद मिलती है और अच्छे रिजल्ट के लिए आप इसे सोने से आधे घंटे पहले एक गिलास दूध के साथ ले सकते हैं।

 

शतावर – Asparagus

दूसरा हैं शतावर –  यह बॉडी के हार्मोन्स को बेलेंस रखता हैं और इम्युनिटी को बढ़ता हैं आयुर्वेद में शतावरी को बहुत ही बेनेफिकल बताया गया हैं। इस आयुर्वेदिक हेर्ब्स को अगर आप दूध के साथ मिलाकर लेते हैं, तो इससे वजन बढ़ने में काफी मदद मिलती हैं। 

 

सफेद मूसली – White Muesli

तीसरा हैं सफेद मुसलीसफेद मुसली खाने से स्ट्रेंथ पॉवर बढ़ती है और कमजोरी दूर करने में मदद मिलती है। यह आपकी मसल्स को स्ट्रोंग बनता हैं और साथ ही यह स्ट्रेस और डीपरेशन को भी कम करता हैं  वजन बढ़ाने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए यह एक बेस्ट आयुर्वेदिक सप्लीमेंट हैं।

 

यष्टिमधु – Yashtimadhu

यष्टिमधु– वजन कम होने और पतले होने का एक प्रमुख कारण पाचन शक्ति का कमजोर होना है। आयुर्वेद में पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए यष्टिमधु का प्रयोग किया जाता है। यष्टिमधु का सेवन करने से कुछ ही दिनों में वजन बढ़ने लगता है।

 

शिलाजीत – Shilajit

शिलाजीत भी एक आयुर्कोवेदिक हेर्ब्स हैं जिसके बहुत सारे हेल्थ बेनेफिट्स हैं यह थ शरीर को ताकत देता हैं और आपका वजन बढ़ता हैं वजन बढ़ने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं आप इसे दूध के साथ ले सकते हैं इससे आपका जल्दी वजन बढ़ता हैं

 

इसे पढ़ेंजानिए हाइट बढ़ाने के प्राकृतिक तरीके

इसे पढ़ेंइसलिए नहीं बढ़ता आपका वजन

 

निष्कर्ष – The Conclusion 

दोस्तों वेट गेन करने के लिए आपको क्या करना हैं क्या खाना हैं और कुछ टिप्स और साथ ही आयुर्वेदिक सप्लीमेंट मैंने बता बता दिए हैं जो सच में वेट गेन करने में आपकी मदद करते हैं। Weight Gain Tips in Hindi

लेकिन किसी भी गोल को अचीव करने के लिए कंसिस्टेंट रहना बहुत ही जरूरी है तभी आप अपने गोल को अचीव कर सकते हैं और आपको महीने दर महीने महेनत करनी होगी तभी आप अपना वेट गेन कर सकते है।

Share

2 thoughts on “वजन बढ़ाने के लिए 21 बेहतरीन टिप्स (21 वेट गेन फार्मूला)”

Leave a Comment