भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि | Bhukh Badhane ki Ayurvedic Dawa Patanjali

Page Contents

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा – Bhukh Badhane ki Syrup Patanjali in Hindi

अगर आपकी भूख कहीं खो गयी हैं और आप अपनी भूख को वापस लेन के लिए किसी ऐसी सिरप की तलाश में हैं। जो आपकी भूख को पहले से भी बहेतर बना दे।

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि एक सबसे कारगार दवा हैं। भूख बढ़ने के लिए पतंजलि की काफी सारी दवा उपलब्ध हैं। इन सभी दवा आपको सिरप, टेबलेट और टॉनिक तीनो में खरीद सकते हैं।

ये सभी भूख बढ़ाने की दवा पतंजलि आपकी भूख को तो बढ़ायेगी ही, साथ ही अगर आपको लीवर से जुडी कोई समस्या हैं। तो यह उसे ठीक करने में भी मदद करेगी।

लीवर से जुडी समस्याएं जैसे – खाना सही ना पचना, खट्टी डकारें, बदहजमी, भूख न लगना, मुह में पानी आना, सीने में जलन, कब्ज आदि। सभी पेट से जुडी समस्याओं को ठीक कने में भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि एक सबसे अच्छी दवा हो सकती हैं।

 

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि Bhukh Badhane ki Ayurvedic Dawa Patanjali in Hindi

तो आइये जानते हैं आखिर कौन सी है। वो सभी भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि।

 

पतंजलि लिव अमृत सिरप – Patanjali liv Amrit syrup in Hindi

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लिव अमृत सिरप पतंजलि आयुर्वेद द्वारा बनाया जाता हैं। इस सिरप को पिने से शरीर को कई सारे पोषक तत्व मिलते हैं जैसे – कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, जिंक, कैरोटीन, प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन ई और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, फोलेट, सोडियम, संतृप्त वसा, फाइबर।

इन सभी पोषक तत्वों के अलावा पतंजलि लिव अमृत सिरप पाए जाते हैं। एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण जो शरीर को स्वस्थ बनाने का काम करते हैं।

 

पतंजलि लिव अमृत सिरप इनग्रेडिएंट्स – Patanjali Liv Amrit Syrup Ingredients in Hindi

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लिव अमृत सिरप को बनाने के लिए कई सारी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता हैं।

इसमें डाले जाने वाली सभी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां शरीर को स्वस्थ बनाने व पाचन तंत्र को मजबूत बनाने का काम लारती हैं।

पतंजलि लिव अमृत सिरप में मौजूद इनग्रेडिएंट्स हैं।

  • भूमि अमला (फिलेंथस निरुरी)
  • पुनर्नवा (बोरहविया डिफ्यूसा)
  • भृंगराज एक्लिप्टा अल्बा
  • मकोय (सोलनम नाइग्रम)
  • अर्जुन (टर्मिनलिया अर्जुन)
  • त्रिफला सरपुंखा (टेफ्रोसिया पुरपुरिया)
  • गिलोय (टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया)
  • मुलेठी (लिकोरिस)
  • कुटकी पिक्रोरिज़ा कुरोआ
  • दारू हल्दी बर्बेरिस अरिस्टाटा
  • अमलतास (कैसिया फिस्टुला)
  • कालमेघ एंड्रोग्राफिस पैनिकुलता

प्राकृतिक व आयुर्वेदिक जड़ी-बूटीयों के द्वारा इस दवा को तैयार किया जाता है। जिस वजह से यह दवा बिना किसी नुकसान के शरीर को स्वस्थ बनाने व भूख बढ़ने में एक बेस्ट सिरप हैं।

 

पतंजलि लिव अमृत सिरप के फायदे – Patanjali Liv Amrit Syrup Benefits in Hindi

पतंजलि आयुर्वेद लिव अमृत सिरप एक शक्तिशाली आयुर्वेदिक सिरप है। जो लीवर के बेहतर स्वास्थ्य के लिए बहुत उपयोगी है। अपच, लीवर/प्लीहा विकार और पाचन से जुडी सभी समस्याओं से छुटकारा दिलाता है।

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लिव अमृत सिरप का सबसे महत्वपूर्ण कार्य भूख को बढ़ाना व लीवर को मजबूत करना होता हैं। लेकिन इसके अलावा भी इस सिरप के बहुत सारे फायदे हैं। जैसे –

  • एनीमिया की समस्या को ठीक करना।
  • पीलिया को दूर करता है।
  • हेपेटाइटिस की समस्या को दूर करता है।
  • अपच से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करता है।
  • पेट फूलना, सूजन और पेट की परिपूर्णता को कम करता है।

 

पतंजलि लिव अमृत सिरप के साइड इफेक्ट – Patanjali Liv Amrit Syrup Side effects in Hindi

इस भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लिव अमृत सिरप का वैसे तो कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं हैं। लेकिन अगर आप इस दवा का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं, तो शायद आपको चक्कर, उलटी, दस्त जैसे समस्याएं देखने को मिल सकती हैं।

इसके अलावा इनका कोई भी साइड इफ़ेक्ट नहीं हैं। आप बिना किसी संदेह के इन दवा के बेनिफिट्स ले सकते हैं।

 

पतंजलि लिव अमृत सिरप उपयोग – Patanjali Liv Amrit Syrup use in Hindi

भूख बढ़ाने की दवा पतंजलि लिव अमृत सिरप का उपयोग महिला, पुरुष व बच्चे सभी कर सकते हैं। लेकिन 5 साल से कम उम्र के बच्चो को इसका सेवन नहीं करना हैं।

आप इस दवा को खाना खाने के बाद ले सकते हैं इस दवा को दिन में 2 से 3 बार लेना सही हैं। इससे ज्यादा बार लेने से आपको कुछ नार्मल साइड इफेक्ट्स देखने को मिल सकते हैं।

 

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण – Patanjali Divya Lavan Bhaskar Churna in Hindi

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण को बनाने के लिए हर्बल जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता हैं।

लवण भास्कर चूर्ण एक बहुत ही फायदेमंद औषधि के रूप में जाना जाता है। यह एक आयुर्वेदिक चूर्ण है। जो भूख बढ़ने के साथ-साथ कब्ज और पेट की सभी समस्याओं को दूर करने में बहुत ही फायदेमंद साबित होता है।

 

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण इनग्रेडिएंट्स – Patanjali Lavan Bhaskar Churna Ingredients in Hindi

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण में डाले जाने वाले सभी इनग्रेडिएंट्स प्राक्रतिक व हर्बल औषधि होती हैं। जो भूख बढ़ने व पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में बहुत ही कारगार होती हैं।

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण में मिलाये जाने वाले इनग्रेडिएंट्स में शामिल हैं।

  • सैंध नमक
  • काला नमक
  • धनिया
  • पीपल छोटी
  • पीपल मूल
  • काला जीरा
  • तेजपात्रा
  • समुंद्र नमक
  • काली मिर्च
  • जीरा
  • सौंठ
  • अनारदाना
  • दाल चीनी
  • बड़ी इलायची
  • नागरमोथा
  • तालीसपत्र
  • अमलताश
  • सोचर नमक

प्राकृतिक व आयुर्वेदिक जड़ी-बूटीयों के द्वारा बनाये गए इस पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण पेट की सभी समस्याओं को ठीक करने के लिए जाना जाता हैं।

 

पतंजलि लवण भास्कर चूर्ण के फायदे – Patanjali Lavan Bhaskar Churna Benefits in Hindi

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण एक शक्तिशाली आयुर्वेदिक चूर्ण है। जो भूख को बढाने व पेट से जुडी सभी समस्याओं को ठाक करने के लिए बहुत उपयोगी है। यह कब्ज, अपच,  और पाचन से जुडी सभी समस्याओं को दूर करता है।

भूख बढ़ाने का आयुर्वेदिक चूर्ण पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण का सबसे महत्वपूर्ण कार्य भूख को बढ़ाना व कब्ज की समस्या को दूर करना हैं। लेकिन इसके अलावा भी इस सिरप के बहुत सारे फायदे हैं यह पाचन की सभी समस्याओं को दूर करता हैं।

 

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण के नुकसान – Patanjali Lavan Bhaskar Churna Side effects in Hindi

वैसे तो इस भूख बढ़ाने की दवा पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं हैं। लेकिन फिर भी आप इसे लेकर कंफ्यूज हैं तो आप पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण के बारे में डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

 

पतंजलि लवन भास्कर चूर्ण के उपयोग Patanjali Lavan Bhaskar Churna Uses in Hindi

2 से 5 ग्राम चूर्ण सुबह भोजन के बाद लें। इसे ठंडा या गुनगुने पानी दोनों के साथ लिया जा सकता है। यदि आपका पाचन तंत्र यानि पाचन शक्ति सही नहीं हैं, तो आपको इसे गुनगुने पानी के लेना चाहिए।

लेकिन अगर आप कब्ज आदि की समस्या से परेशान हैं, तो आप इसका ठंडे पानी के साथ सेवन करे। क्योंकि कब्ज में इसे ठंडे पानी के साथ लेना अधिक फायदेमंद रहेगा।

 

पतंजलि लोहासव सिरप – Patanjali Lohasava Syrup in Hindi

पतंजलि लोहासव सिरप एक आयुर्वेदिक दवा हैं। जिसका उपयोग पाचन में सुधर के लिए किया जाता हैं।

यह आपकी भूख को बढ़ने में मदद करती हैं और आपके पाचन तंत्र को मजबूत बनती हैं। साथ की इसका उपयोग शरीर में आयरन की कमी को दूर करने के लिए भी किया जाता हैं।

यह प्राक्रतिक जड़ी-बूटियों से बनी एक हर्बल सिरप हैं। जिसे भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लोहासव सिरप के नाम से जाना जाता हैं।

 

पतंजलि लोहासव सिरप के इनग्रेडिएंट्स – Patanjali Lohasava Syrup Ingredients in Hindi

भूख बढ़ाने की दवा पतंजलि लोहासव सिरप में नेचुरल आयुर्वेदिक इनग्रेडिएंट्स का इस्तेमाल किया गया हैं। इसमें मौजूद सभी इनग्रेडिएंट्स भूख बढ़ने और आयरन की कमी को पूरा करने के लिए जाने जाते हैं।

  • हरड़ चिल्का
  • आंवला सूखा
  • बहेड़ा फलों का छिलका
  • लोहासव प्रक्षेप
  • सौंठ
  • काली मिर्च
  • पीपल
  • अजमोद
  • नगर मोठा
  • चित्रक मूल
  • विंदिंग
  • लोहा भस्म
  • धातकी पुष्प
  • गुड़
  • शहद

ये सभी कच्ची सामग्री के रूप में शामिल है। यह भूख बढ़ने में मदद करता हैं इसमें प्राकृतिक रूप से प्रोसेस्ड आयरन होता है।

 

पतंजलि लोहासव सिरप के फायदे – Patanjali Lohasava syrup benefits in Hindi

इसे भूख बढ़ाने की दवा पतंजलि लोहासव सिरप के नाम से जाना जाता हैं। यह भूख बढ़ने के साथ-साथ आपके पाचन तंत्र को मजबूत बनती हैं।

यह शरीर में आयरन की कमी को दूर करने के लिए एक बेस्ट आयुर्वेदिक सिरप हैं।

लोहासव सिरप का सेवन वात और कफ वाले लोगो के लिए बेस्ट हैं। क्योंकि यह वात और कफ को नियंत्रित करता हैं।

पतंजलि लोहासव सिरप के सेवन करने से पीलिया तथा एनीमिया खून की कमी को दूर करता हैं और यह सिरप खून की सफाई करता है।

पतंजलि लोहासव सिरप में आयरन पर्याप्त मात्रा में होने के कारण यह सिरप हीमोग्लोबिन के लेवल को बढ़ाता है।

यह सिरप लीवर को नई ऊर्जा प्रदान करता हैं यह पाचन शक्ति को बढ़ाता है तथा मेटाबॉलिज्म को सही करता है।

 

पतंजलि लोहासव सिरप के दुष्प्रभाव – Patanjali Lohasava syrup side effects in Hindi

यदि आप इस भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि लोहासव सिरप को चिकित्सक की देखरेख में लेते हैं। तो इससे आपको किसी प्रकार का कोई दुष्प्रभाव या साइड इफेक्ट नहीं होगा।

लेकिन अगर आप इसे अधिक मात्रा में लेते हैं, तो आपको कुछ साइड इफ़ेक्ट देखने को मिल सकते हैं। जैसे –

  • सीने में जलन
  • गैस बनना
  • लाल त्वचा लाल चकत्ते
  • दाने आदि

डायबिटीज से पीड़ित लोग इस दवा का सेवन ना करे। क्योंकि इसमें गुड और शहद होता हैं साथ ही प्रेग्नेंट महिलाये परहेज करें।

 

पतंजलि लोहासव सिरप की खुराक – Patanjali Lohasava syrup uses in Hindi

पतंजलि लोहासव सिरप को आप दिन में 2 से 3 बार ले सकते हैं। आपको इसे खाना खाने खाने के बाद लेना होगा।

पतंजलि लोहासव सिरप की खुराक आप 24ml ले सकते हैं इस लेने के लिए आप ठंडे या हल्के गर्म पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसे पढ़ें – [6 Best] Isha Life Products Skin & Hair (Hindi)

इसे पढ़ें – खांसी की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि

 

निष्कर्ष – The Conclusion

यह सभी भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि सबसे अच्छी दवा हैं। जोकि बिलकुल नेचुरल हैं। आप भूख बढ़ने के लिए और पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए इनका उपयोग कर सकते हैं।

ये सभी भूख बढ़ाने की दवा पतंजलि आपकी भूख बढ़ने के साथ-साथ और भी कई सारे बेनिफिट्स देती हैं।

लेकिन अगर आपको कोई बीमारी हैं, तो आप डॉक्टर की सलाह के बिना इनका उपयोग ना करें।

 

Share

2 thoughts on “भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि | Bhukh Badhane ki Ayurvedic Dawa Patanjali”

Leave a Comment