हिमालया लिव-52 सिरप और टैबलेट के फायदे, नुकसान व उपयोग विधि

Page Contents

हिमालया लिव-52 सिरप के फायदे और नुकसान, उपयोग विधि व कीमत – Himalaya liv 52 syrup in Hindi

हिमालया लिव-52 सिरप और टैबलेट क्या है, कैसे काम करती हैं, इसे लेने का तरीका क्या है, हिमालया लिव-52 सिरप के फायदे और नुकसान तथा उपयोग की विधि व हिमालया लिव-52 सिरप और टैबलेट की कीमत क्या हैं इस पोस्ट में हम हिमालया लिव-52 सिरप और टैबलेट के बारे में विस्तार से जानेगे

 

हिमालया लिव-52 सिरप की जानकारी – Himalaya liv 52 syrup in Hindi 

यह एक आयुर्वेदिक दवा हैं जो डॉक्टर के पर्चे बिना ही मिल जाती हैं हिमालय लिव.52 सिरप में कैपर बुश (हिमस्रा) और चिकोरी (कसानी) शामिल हैं। हिमस्रा एक शक्तिशाली हेपेटोप्रोटेक्टिव है, जो यकृत एंजाइम (एएलटी और एएसटी) के स्तर को कम करता है और यकृत और प्लीहा की कार्यात्मक दक्षता में सुधार करता है। हिमस्रा में मौजूद फ्लेवोनोइड्स महत्वपूर्ण एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रदर्शित करते हैं। कसानी शराब के जहर से लीवर की रक्षा करता है। यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट भी है, जिसे इसके फ्री रेडिकल्स मैला ढोने वाले गुणों से देखा जा सकता है।

 

हिमालया लिव-52 टैबलेट की जानकारी – himalaya liv 52 tablet in hindi

हिमालया लिव-52 टैबलेट में भी कैपर बुश (हिमस्रा) और चिकोरी (कसानी) जैसे सभी तत्व शामिल हैं। हिमालया लिव-52 टैबलेट सिरप का ही दूर रूप हैं। जो लोग सिरप पीना पसंद नहीं करते हैं, तो खासकर ऐसे लोगो के लिए हिमालया कंपनी ने इसे टैबलेट का रूप दिया हैं। इन दोनों में बस टैबलेट और सिरप का ही फर्क हैं बाकि सब सेम हैं, तो आप हिमालया लिव-52 टैबलेट और सिरप को लेकर कंफ्यूज बिलकुल ना हो आप अपने लिए दोनों में से कोई भी ले सकते हैं।

 

हिमालया लिव-52 सिरप क्या है – Himalaya liv 52 syrup kya hai

हिमालया लिव-52 सिरप लिवर के लिए एक जानी-मानी और प्रमुख आयुर्वेदिक दवा है। यह बाजार में लंबे समय से उपलब्ध है। लीवर की देखभाल के लिए बाजार में कई दवाएं उपलब्ध हैं, लेकिन हिमालय का लिव-52 सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला सिरप है। हिमालया लिव-52 सिरप और टेबलेट के रूप में आसानी से उपलब्ध है। हिमालया लिव-52 सिरप कई शोधों से साबित हुआ है कि यह लीवर की एक प्रमुख दवा है। इसे एक से अधिक जड़ी-बूटियों से बनाया जाता है और सभी का काम लीवर को साफ करना और लीवर से संबंधित बीमारियों को ठीक करना है।

क्योंकि लीवर हमारे शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है इसलिए हमारे लिए लीवर को साफ करना बहुत जरूरी हो जाता है। लीवर के कारण हमारे पाचन तंत्र की प्रक्रिया सुचारू रूप से चलती है। लीवर से निकलने वाले रस हमारे भोजन को ठीक से पचाने में हमारी मदद करते हैं। अगर लीवर में किसी तरह का इंफेक्शन हो जाता है या लीवर कमजोर हो जाता है तो हमारा पाचन तंत्र भी स्वस्थ नहीं रहता है। तो आप पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए हिमालया लिव-52 सिरप या टेबलेट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

हिमालया लिव-52 टैबलेट क्या हैं – himalaya liv 52 tablet kis kaam aati hai

हिमालया लिव-52 टैबलेट सिरप का ही दूसरा रूप हैं इसमें भी वो सभी गुण मौजूद होते हैं जोकि हिमालया लिव-52 सिरप में होते हैं। यह भी आपके पाचन तंत्र को मजबूत बनता हैं और आपकी भूख बढ़ता हैं तथा लीवर में होने वाली सभी समस्याओं को दूर करता हैं आप टैबलेट या सिरप कोई भी ले सकते हैं काम दोनों एक ही करती हैं। 

 

हिमालया लिव-52 सिरप इनग्रेडिएंट्स – Himalaya liv 52 syrup ingredients in Hindi

 

  • हेमरसरा (कपारिस स्पिनोसा) 65 मिलीग्राम।
  • कसनी (सिकोरियम इंटीबस) 65 मिलीग्राम।
  • मंडूर भस्म 33 मिलीग्राम।
  • काका मशीन (सोलनम नाइग्रम) 32 मिलीग्राम।
  • टर्मिनलिया अर्जुन 32 मिलीग्राम।
  • कामदादरा (कैसिया ऑसीडेंटलिस) 16 मिलीग्राम।
  • जाभुका (इमली गैलिका) 16 मिलीग्राम।
  • बिरंजासीफा (अकिलिया मिलेफोलियम) 16 मिलीग्राम।

 

हिमालया लिव-52 टैबलेट इनग्रेडिएंट्स – himalaya liv 52 tablet ingredients in hindi

इसमें वे सभी इनग्रेडिएंट्स मौजूद होते हैं जो सिरप में डाले गए हैं इसमें बनाने के लिए भी सेम इनग्रेडिएंट्स का ही इस्तेमाल किया गया हैं हिमालया लिव-52 टैबलेट और सिरप एक ही हैं फर्क हैं तो सिर्फ सिरप और टैबलेट का

  • Hemerasra (Cuparis spinosa) 65 mg.
  • Kasni (Sicorium intebus) 65 mg.
  • Mandur Bhasma 33 mg.
  • Kaka Machine (Solanum nigrum) 32 mg.
  • Terminalia arjuna 32 mg.
  • Kamdadara (Cassia occidentalis) 16 mg.
  • Jabhuka (Tamarind Gallica) 16 mg.
  • Birnjacifa (Achillea millefolium) 16 mg.

 

हिमालया लिव-52 सिरप के फायदे – Himalaya liv 52 syrup benefits in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप के फायदे की बात करें तो इसके सेवन से कई फायदे होते हैं। इसका प्रयोग कई प्रकार के रोगों में किया जाता है। इसके सेवन से होने वाले फायदों के बारे में नीचे विस्तार से जानकारी देने का प्रयास किया गया है।

 

लीवर को स्वस्थ बनाता है

अगर आपका पाचन तंत्र ठीक नहीं है और आपको अच्छी तरह से भूख नहीं लगती है, तो मतलब आपका लीवर ख़राब हैं अपने लीवर को फिर से स्वस्थ बनाने के लिए आप लिव-52 सिरप का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपके पाचन में सुधार करता है और लीवर को ठीक तरह  से काम करने में मदद करता है। यह भूख बढ़ाने की सिरप का काम करती है।

 

हेपेटाइटिस ए के इलाज में मदद करता है

हेपेटाइटिस ए (संक्रामक हेपेटाइटिस), लिव.52 के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सबसे आम दवा की सिफारिश सभी चिकित्सकों द्वारा की जाती है क्योंकि यह जल्दी ठीक होने का पक्षधर है। यह विषाक्तता को कम करने और इस संक्रमण के कारण होने वाले लीवर को होने वाले किसी भी नुकसान को कम करने में मदद करता है।

 

हल्के कब्ज से राहत दिलाता है

लिव 52 सिरप अपने पाचन गुणों के साथ, हल्के कब्ज से राहत दिलाने में मदद करता है जिससे मल त्याग अधिक आसान और सुविधाजनक हो जाता है।

 

पीलिया के इलाज में मदद करता है

लिव 52 सिरप बिलीरुबिन (पीला यौगिक) के उच्च स्तर को कम करती हैं जो पीलिया का कारण बनती हैं, इस प्रकार इस बीमारी का इलाज करती हैं। ऑब्सट्रक्टिव पीलिया से पीड़ित लोगों के लिए इस टैबलेट की सिफारिश नहीं की जाती है क्योंकि यह दवा ट्यूमर या पित्त पथरी (कोलेलिथियसिस) के कारण पित्त नलिकाओं की रुकावट से राहत दिलाने में प्रभावी नहीं है।

 

बृहदान्त्र सफाई में सहायक

यह आपके शरीर की गंदगी को साफ़ करता है,अगर आपके पेट में काफी गंदगी जमा हो गयी हैं और सुबह आपका पेट ठीक से साफ नहीं होता है तो गंदगी को साफ़ करने के लिए आप इस सिरप का इस्तेमाल कर सकते हैं यह गैस की समस्या और अन्य बीमारियों का खतरा को कम करता है। पेट की सफाई के लिए आप लिव-52 सिरप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

रक्त शोधक

हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट के नियमित सेवन से आपका खून साफ हो जाता है। यह खून साफ करने की सिरप भी हैं इससे न सिर्फ आपकी सेहत अच्छी रहती है, बल्कि आपके चेहरे पर ग्लो भी बढ़ता है और आपको फोड़े-फुंसी जैसी समस्या नहीं होती है। हिमालया लिव 52 सिरप में जो भी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया गया है, वह आपकी लाल रक्त कोशिकाओं को भी बढ़ाती है।

 

बॉडी बिल्डिंग में फायदेमंद

बॉडी बनाने वालों के लिए हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का सेवन बहुत जरूरी है क्योंकि वे तरह-तरह के सप्लीमेंट्स खाते हैं, जिससे उनके लीवर पर काफी दबाव पड़ता है। अगर आप लोग बॉडी बिल्डिंग करते हैं या सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल करते हैं तो आपको लिव-52 का इस्तेमाल नियमित रूप से करना चाहिए।

इसके अलावा जो लोग प्रोफेशनल बॉडी बिल्डर होते हैं वे स्टेरॉयड का इस्तेमाल करते हैं। स्ट्राइड आपके लीवर के लिए बहुत हानिकारक हो सकता है और आपके लीवर को स्थायी नुकसान पहुंचा सकता है. इससे बचने के लिए एक प्रोफेशनल बॉडी बिल्डर के लिए हिमालया लिव 52 सिरप DS या टैबलेट DS का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी हो जाता है।

 

हिमालया लिव-52 टैबलेट के फायदे – himalaya liv 52 tablet ke fayde in hindi

हिमालया लिव-52 टैबलेट के फायदे की बात करें तो इससे भी आपको वे सभी फायदे मिलते हैं जो हिमालया लिव 52 सिरप से मिलते हैं आप कोई भी ले सिरप या टैबलेट दोनों से सेम ही फायदे मिलते हैं।

  • हिमालया लिव-52 टैबलेट आपके लीवर को स्वस्थ और मजबूत बनाता है
  • यह हेपेटाइटिस ए के इलाज में मदद करता है
  • यदि आपको बार०-बार हल्के कब्ज की शिकायत रहती हैं तो यह कब्ज से राहत देता है
  • यह शरीर से पीलिया को दूर करने में भी और इसके के इलाज में मदद करता है
  • बृहदान्त्र सफाई एड्स करने में मदद करता हैं
  •  हिमालया लिव-52 टैबलेटआपको खून को भी साफ़ करने में फायदेमंद होती हैं इसे रक्त शोधक भी खा जाता हैं
  • यदि आपका गोल एक अच्छी बॉडी बनाना हैं तो यह आपकी एक बेहतर बॉडी बनाने में भी मदद करता हैं यह बॉडी बिल्डिंग में भी फायदेमंद होता हैं

 

हिमालया लिव-52 सिरप का अन्य उपयोग – Himalaya liv 52 uses in Hindi

  • फैटी लीवर रोग या स्टीटोहेपेटाइटिस के इलाज में मदद करता है।
  • पित्ताशय की थैली की सूजन को कम करता है।
  • लीवर उत्तेजक और एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है।
  • विरोधी वायरल और विरोधी भड़काऊ।
  • एक इम्युनोमोड्यूलेटर है।
  • हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाता है।
  • पीलिया के इलाज में मदद करता है।
  • भूख, पाचन और आत्मसात में सुधार करता है।
  • स्वस्थ वजन बढ़ाने में मदद करता है।
  • वायरल हेपेटाइटिस, अल्कोहलिक लीवर की बीमारी और लीवर की क्षति की रोकथाम और उपचार में मदद करता है।
  • लंबी बीमारी और ठीक होने के दौरान सहायक के रूप में काम करता है।

 

हिमालया लिव 52 सिरप के नुकसान – Himalaya liv 52 syrup side effects in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप एक संपूर्ण आयुर्वेदिक औषधि है। इसके खराब होने की संभावना बहुत कम होती है। लेकिन फिर भी आपको इसका सेवन करने से पहले कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। इसका सेवन आपको हमेशा सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। इसका सेवन हमेशा डॉक्टर की सलाह के बाद ही करना चाहिए। यदि आपको हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट में मौजूद किसी भी घटक से एलर्जी है, तो आपको इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

 

हिमालया लिव-52 टैबलेट के नुकसान – himalaya liv.52 tablets side effects in hindi

अगर आप हिमालया लिव-52 टैबलेट को सीमित मात्रा में लेते हैं तो इससे आपको कोई नुकसान नहीं होता हैं अभी तक इसका कोई भी नुकसान सामने नहीं आया हैं आप इसे ले सकते हैं इससे आपको कोई नुकन नहीं होता हैं लेकिन फिर भी यदि आपको इसे लेने से कोई भी साइड इफ़ेक्ट देखाई देता हैं तो आप इसे लेना तुरंत बंद कर दे और अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें

 

हिमालया लिव-52 सिरप कैसे इस्तेमाल करें – himalaya Liv 52 syrup uses in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का इस्तेमाल दिन में दो या तीन टाइम किया जा सकता हैं लिव-52 टैबलेट और सिरप के फायदे और नुकसान के बारे में तो आप जान ही गए हैं, अब देखते हैं कि लिव-52 सिरप कैसे इस्तेमाल करें और इसे लेने का सही तरीका क्या है ताकि आप लोगों को ज्यादा से ज्यादा फायदा और फायदा मिल सके।

हिमालय कंपनी का कहना है कि शुरुआत में आपको दिन में दो बार दो गोलियां लेनी चाहिए, लेकिन बाद में सुबह और शाम एक-एक गोली लेनी चाहिए।

5 साल से ऊपर के बच्चों को एक टैबलेट और वयस्कों यानी व्यस्त लोगों को दिन में 2 टैबलेट लेने की सलाह दी जाती है। अगर आप हिमालया लिव-52 डीएस लेते हैं तो आपके लिए एक गोली लेना बेहतर होगा। बेहतर परिणाम के लिए इस टैबलेट को थोड़े गर्म पानी के साथ लिया जा सकता है।

 

हिमालया लिव-52 सिरप की खुराक – himalaya Liv 52 syrup dosage in Hindi

लिव-52 सिरप की खुराक कुछ इस प्रकार हैं इसे आप सिरप के लेवल पर भी पा सकते हैं और उसके अनुसार ले सकते हैं या फिर अपने डॉक्टर से भी जान सकते हैं

  • बच्चों के लिए – 1 चम्मच (5 मिली)
  • बुद्दो के लिए – 2 चम्मच (10 मिली)

 

हिमालया लिव-52 टैबलेट की खुराक – himalaya liv 52 tablets dosage in hindi

लिव-52 टैबलेट की खुराक इस प्रकार दी गयी हैं आइये देखते हैं

  • बच्चों के लिए – 1 गोली
  • वयस्कों के लिए – 2 गोलियाँ

बेहतर परिणाम के लिए आप लिव-52 सिरप और टैबलेट को थोड़े गर्म पानी के साथ ले सकते हैं। या डॉक्टर द्वारा बताई गई दवा लें।

 

हिमालय लिव-52 कीमत – Himalaya Liv-52 Price in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप और टैबलेट की कीमत की बात करें तो इसका प्राइस काफी अच्छा हैं और यह आपको बड़ी आसानी से मिल जाती हैं आप इसे अपने पास के किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं और यदि आप इसे ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं तो आप इसे यहाँ से भी खरीद सकते हैं

हिमालय लिव-52 सिरप की कीमत – 200 ML (Rs. 123)

हिमालय लिव-52 टैबलेट की कीमत – 100 tablets (Rs. 100)

 

हिमालय लिव-52 सिरप सुरक्षा संबंधी जानकारी – Himalaya Liv-52 Syrup Safety Information in hindi

  • उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें।
  • सीधे धूप से दूर ठंडी सूखी जगह पर स्टोर करें।
  • बच्चों की पहुंच से दूर रखें।
  • चिकित्सकीय देखरेख में उपयोग करें।

 

इसे पढ़ेंगैस और कब्ज की बेहतरीन आयुर्वेदिक दवा

इसे पढ़ेंजापानी एम कैप्सूल के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि और कीमत

 

हिमालया लिव 52 सिरप और टैबलेट अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न – Himalaya Liv 52 Syrup FAQs in Hindi

1. क्या हिमालय लिव-52 सिरप का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

शोध कार्य न हो पाने के कारण हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट के हानिकारक प्रभावों के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं हैै।

2. क्या हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

स्तनपान कराने वाली औरतों पर हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का क्या प्रभाव पड़ता है? शोध कार्य नहीं होने के कारण इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है। फिलहाल इसे लेने से पहले डॉक्टर से पूछना जरूरी है।

3. हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का प्रभाव पेट पर क्या होता है?

आप हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का सेवन बिना किसी डर के कर सकते हैं। यह पेट के लिए सुरक्षित है।

4. हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट बच्चो के लिए सही हैं?

हाँ हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट 5 साल से ऊपर के बच्चो के लिए बिलकुल सुरक्षित हैं।

5. क्या हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का उपयोग शराब पिने वाले लोगो के लिए सही हैं?

इस पर कोई काम नहीं हो रहा है। सही जानकारी के अभाव में हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट का क्या होगा यह इस विषय पर समझ के आधार पर होगा।

6. हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट शरीर को सुस्त बनती हैं?

नहीं यह शरीर को सुस्त नहीं बनती हैं यह शरीर से सुस्त निकलती हैं।

7. हिमालया लिव 52 सिरप या टैबलेट की लत तो नहीं लगती हैं?

नहीं इसे कभी भी छोड़ा जा सकता हैं इसकी लत नहीं लगती हैं।

 

निष्कर्ष  – The Conclusion

हिमालया लिव 52 सिरप और टैबलेट एक आयुर्वेदिक दवा हैं जिन्हें खासकर पेट और लीवर की समस्याओं को दूर करने के लिए तैयार किया गया हैं इसके अलावा भी इनके ओर भी कई सारे फायदे हैं क्योंकि ये आयुर्वेदिक हैं तो इसलिए इनका कोई नुकसान भी नहीं हैं आप इन्हें बेफिक्र होकर ले सकते हैं और बेहतर जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें

 

Share

Leave a Comment